Jharkhand News : स्पैनिश पर्यटक से गैंगरेप का पूरा मामला, अब तक चार की गिरफ़्तारी

Jharkhand News : झारखंड में एक स्पैनिश पर्यटक के साथ कथित सामूहिक बलात्कार के मामले में पुलिस ने अब तक चार अभियुक्तों को गिरफ़्तार किया है.

Jharkhand News : झारखंड के डीजीपी अजय कुमार सिंह के मुताबिक़, “इस घटना में शामिल चार अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लिया गया है और तीन अन्य अभियुक्तों की पहचान की जा चुकी है. जल्द ही उनकी गिरफ़्तारी हो जाएगी.”

वहीं इस मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने पूरे मामले में रिपोर्ट तलब की है. उन्होंने कहा है, “जो भी दोषी होंगे, उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी.”

विदेशी पर्यटक के साथ सामूहिक बलात्कार की इस घटना ने झारखंड के पुलिस प्रशासन और क़ानून व्यवस्था को सवालों के घेरे में ला दिया है.

Jharkhand News
Jharkhand News

 

Jharkhand News : सोशल मीडिया पोस्ट से दी जानकारी

ब्राज़ील मूल की स्पैनिश युवती हियाना और उनके पति जॉन (दोनों का बदला हुआ नाम) ने यह बात दो मार्च की सुबह अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म इंस्टाग्राम के स्टेटस में लिखी थी.

वीडियो में हियाना और जॉन अपने साथ हुई वारदात की जानकारी दे रहे हैं. स्पैनिश भाषा में रिकॉर्ड किया गया उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

वीडियो में उन्होंने कहा, “हमारे साथ जो हुआ, हम नहीं चाहेंगे कि वैसा किसी के साथ हो. सात लोगों ने मेरा रेप किया. उन लोगों ने हमें पीटा और लूटपाट भी की. उन लोगों ने और कुछ नहीं किया, क्योंकि वो सिर्फ़ मेरा बलात्कार करना चाहते थे. हम लोग अस्पताल में पुलिस के साथ हैं और यह घटना हमारे साथ भारत Jharkhand में हुई है.”

एक और वीडियो में जॉन कहते हैं, “मेरा चेहरा ख़राब हो चुका है. लेकिन हियाना की हालत मुझसे ज़्यादा ख़राब है. उन लोगों ने मुझे हेलमेट से कई बार मारा. ईश्वर का शुक्रिया क्योंकि उसने जैकेट पहन रखी थी. इसलिए उसे थोड़ी कम चोट लगी.”

इन वीडियोज़ में दोनों के चेहरों पर कई जगह चोट के निशान दिख रहे हैं. ये वीडियो अस्पताल में रिकॉर्ड किया गया है.

Jharkhand News : इसके बाद हियाना ने अपने व्यक्तिगत इंस्टाग्राम प्रोफ़ाइल पर एक स्टेटस डालकर बताया कि पुलिस उन्हें मामले की जानकारी पोस्ट करने से मना कर रही है, क्योंकि इससे जांच में दिक़्क़तें आ सकती हैं.

स्पेन के नागरिक

जॉन और हियाना स्पैनिश पर्यटक हैं. जॉन स्पेन में समुद्र के किनारे बसे ग्रेनेडा शहर के रहने वाले हैं. वहीं हियाना मूल रूप से ब्राज़ील की हैं लेकिन उन्होंने स्पेन की नागरिकता ली हुई है. इन दोनों के पास स्पेन के पासपोर्ट हैं.

उनके सोशल मीडिया प्रोफ़ाइल के मुताबिक़ मोटरसाइकिल से दुनिया घूमने निकले ये दोनों पति-पत्नी पिछले पांच सालों के दौरान अपनी मोटरसाइकिल से 66 देशों से गुज़रे हैं और एक लाख 70 हज़ार किलोमीटर का सफर तय कर चुके हैं.

भारत के बाद वे नेपाल होते हुए ऑस्ट्रेलिया जाने वाले थे. ये दोनों अपनी दो अलग-अलग मोटरसाइकिलों से एक साथ चलते हैं.

अपनी यात्रा के दौरान जॉन और हियाना ईरान, इराक़, तुर्किये, श्रीलंका, पाकिस्तान, बांग्लादेश, सऊदी अरब, जॉर्डन, इटली, जॉर्जिया और अफ़ग़ानिस्तान से होते हुए गुज़रे हैं.

यह जोड़ा पिछले छह महीने से भारत में था. झारखंड आने से पहले ये दक्षिण भारत, कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के अलग-अलग पर्यटन स्थलों की यात्राएं कर चुके थे.

सोशल मीडिया पर इनके लाखों फ़ॉलोअर्स है. फ़ेसबुक और इंस्टाग्राम के अलावा यूट्यूब पर भी इनकी मौजूदगी है.

झारखंड में क्या हुआ?

Jharkhand News
Jharkhand News

हियाना और जॉन अपनी अलग-अलग मोटरसाइकिल से झारखंड के रास्ते भागलपुर की तरफ़ जा रहे थे. उनकी योजना बिहार के रास्ते नेपाल जाने की थी. ये दोनों पर्यटक वीज़ा पर भारत में घूम रहे थे.

एक मार्च की रात ये दुमका ज़िले के छोटे से गांव कुरमाहाट (कुंजी) में सड़क से थोड़ी दूरी पर एक जगह टेंट लगाकर सोए थे.

तभी कुछ लड़के वहां पहुंचे. उन्होंने अपने कुछ और साथियों को वहां बुला लिया. वो लोग टेंट में घुस गए और उन्होंने हियाना को अपने कब्ज़े में ले लिया.

इस दौरान हियाना और जॉन के साथ मारपीट की गई. हियाना के साथ कथित तौर पर बलात्कार कर ये लड़के वहां से फ़रार हो गए. इस दौरान उनके साथ लूटपाट भी की गई.

इस घटना से बुरी तरह डरे जॉन और हियाना अपना सामान समेटकर सड़क पर आ गए. पेट्रोलिंग पर निकली हंसडीहा थाने की पुलिस ने रात साढ़े दस बजे बदहवास हालत में दोनों को देखा और पूछताछ की. जब पुलिस उन्हें लेकर सरैयाहाट अस्पताल पहुंची, तब उन्हें हियाना के साथ सामूहिक बलात्कार और लूट की पूरी जानकारी मिली.

संवाद में हुई मुश्किलें

Jharkhand News
Jharkhand News

Jharkhand News : अस्पताल पहुंचने के बाद गूगल ट्रांसलेटर की मदद से उन्होंने पुलिस को सारी बात बतायी. उन्होंने अपराधियों का हुलिया बताया. आधी रात बाद मुझे पूरी घटना की सूचना मिली और मैं मौके़ पर पहुंचा. पुलिस ने रात में ही कुछ अभियुक्तों को पकड़ लिया. पूछताछ के दौरान इन्होंने इस घटना में संलिप्तता स्वीकार की और अपने दूसरे साथियों के नाम भी बताए. हम बाक़ियों को गिरफ़्तार करने के लिए ऑपरेशन चला रहे हैं. हमारी कई टीमें इसमें लगी हैं.”

“हम जल्दी सभी अभियुक्तों को गिरफ़्तार कर लेंगे. यह मामला विदेशियों से जुड़ा है. लिहाज़ा, जांच के दौरान हम अंतरराष्ट्रीय प्रोटोकॉल का भी पालन कर रहे हैं. पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है. उन्हें दुमका लाकर कड़ी सुरक्षा में रखा गया है ताकि आगे की कार्रवाई पूरी की जा सके.”

उन्होंने यह जानकारी दी है कि स्पैनिश पर्यटक का बयान अदालत में सीआरपीसी की धारा 164 के तहत दर्ज करा लिया गया है. एसपी के मुताबिक़ स्थानीय पुलिस के पास विदेशी पर्यटकों के दुमका आने और कैंप करने की कोई सूचना नहीं थी.

विधानसभा में उठी बात

बीजेपी विधायक अमित मंडल ने झारखंड विधानसभा में यह मामला उठाया और इसमें पुलिस पर कार्रवाई की मांग की.

पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने भी इस घटना की निंदा करते हुए राज्य सरकार को कठघरे में खड़ा किया.

उन्होंने कहा, “झारखंड में अपराधियों का मनोबल बढ़ा हुआ है. इस घटना से देश की छवि धूमिल हो रही है और इसके लिए झारखंड सरकार ज़िम्मेदार है.”

कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने भी इसे शर्मनाक घटना कहा है.

उन्होंने कहा, “पुलिस ने भरोसा दिलाया है कि बाक़ी अपराधियों को जल्द पकड़ा जाएगा. हमने सीएम से मांग की है कि अपराधियों को जल्द सज़ा दिलाने के लिए फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई कराई जाए.”

दूतावास को सूचना

स्पैनिश नागरिकों के साथ हुई इस घटना की सूचना मिलने के बाद भारत में मौजूद स्पेन के दूतावास के अधिकारियों ने झारखंड में अधिकारियों से बातचीत की है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ दूतावास के एक अधिकारी दुमका जाकर पीड़िता से मुलाक़ात करेंगे और पूरे मामले की जानकारी लेंगे.

झारखंड में हर दिन 4 से अधिक महिलाओं का बलात्कार

झारखंड में महिलाओं के ख़िलाफ़ हिंसा की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं.

झारखंड पुलिस की वेबसाइट के मुताबिक़ राज्य में हर रोज़ औसतन चार से अधिक महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं होती हैं.

पिछले 9 साल के दौरान झारखंड में बलात्कार की कुल 13,533 घटनाएं दर्ज कराई गई हैं. इन मामलों में अभियुक्तों को सज़ा दिलाने के मामले भी संतोषजनक नहीं हैं.

झारखंड पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक़ साल 2015 से 2023 के बीच राज्य में बलात्कार और सामूहिक बलात्कार की कुल 13,533 घटनाएं दर्ज कराई गई हैं.

Leave a Comment

Recent Post

Live Cricket Update

You May Like This

Verified by MonsterInsights